No MSISDN

सेल्फी का साथ

आशिकी की हद तो देखो . लड़के के मरने के बाद लड़की भी चिता पर लेट गयी...
आशिकी की हद तो देखो \n\n . लड़के के मरने के बाद लड़की भी चिता पर लेट गयी यह देख कर सभी लोगों की आंखों में आंसू अ गए लेकिन यह क्या? \n\n . . लड़की ने सेल्फी खींच कर पोस्ट किया 'Me with My exboy Friend.' at शमशान घाट - फीलिंग विधवा with पंडित जी and 14 others. \n\n मां कसम, तब से आशिक़ी पर से भरोसा उठ गया \n\n

गजब परिवार

एक परिवार मे 4 बहनें थीं ,एक का नाम था: टूटी दूसरी का नाम: फटी..
एक परिवार मे 4 बहनें थीं, एक का नाम था: टूटी दूसरी का नाम: फटी तीसरी का नाम: सड़ी चौथी का नाम: म़री \n\n एक दिन उनके घर पर गेस्ट आया. \n\n गेस्ट से मम्मी ने पूछा, आप कुर्सी पर बैठेंगे या नीचे चटाई पर ? गेस्ट: कुर्सी पर मम्मी: टूटी कुर्सी लेकर आओ गेस्ट: नहीं-नहीं, ठीक है मैं चटाई पर बैठ जाता हूं. मम्मी: फटी, चटाई लेकर आओ. गेस्ट- रहने दीजिए मैं जमीन पर ही बैठ जाता हूं \n\n (गेस्ट जमीन पर बैठ गया) \n\n मम्मी: आप चाय पीएंगे या दूध ? गेस्ट: चाय मम्मी: सड़ी, चाय लेकर आओ गेस्ट: नहीं-नहीं, चाय रहने दो, दूध हो तो वह भी चलेगा \n\n मम्मी: मरी, गाय का दूध लेके आओ. \n\n गेस्ट बेचारा... कन्फ्यूज होकर घर से ही भाग गया. \n\n

घटा मोटापा

एक मोटे आदमी ने न्यूज पेपर में विज्ञापन देखा 'एक सप्ताह में 5 किलो वजन कम कीजिये.'...
एक मोटे आदमी ने न्यूज पेपर में विज्ञापन देखा 'एक सप्ताह में 5 किलो वजन कम कीजिये.' \n\n उसने उस विज्ञापन वाली कंपनी में फोन किया तो एक महिला ने जवाब दिया : 'कल सुबह 6 बजे तैयार रहिएगा.' \n\n अगली सुबह उस मोटे आदमी ने दरवाजा खोला तो देखा कि एक खूबसूरत लड़की जागिंग सूट और शूज पहने तैयार खड़ी है. \n\n युवती बोली:'मुझे पकड़ो और 'किस' कर लो.' \n\n इतना कहते ही वह युवती पलटी और दौड़ पड़ी. \n\n मोटू भी पीछे दौड़ा मगर उसे पकड़ नहीं पाया. \n\n पूरे हफ्ते रोज मोटू उस लड़की पकड़ने का प्रयास करता, लेकिन पकड़ नही पाता. इस चक्कर में उसका वजन 5 किलो कम हो गया. \n\n फिर मोटू ने 10 किलो वजन कम करने वाले प्रोग्राम की बात की. \n\n अगली सुबह 6 बजे जब उसने दरवाजा खोला तो देखा कि पहले वाली लड़की से भी खूबसूरत युवती जागिंग सूट और शूज में खड़ी है. \n\n यह लड़की भी बोली: मुझे पकड़ो और 'किस' कर लो... पूरे हफ्ते यह दौर चला और इस हफ्ते मोटू का वजन 10 किलो घट गया. \n\n मोटू ने सोचा, वाह क्या बढ़िया प्रोग्राम है. क्यों ना 25 किलो वाला प्रोग्राम आजमाया जाए. \n\n उसने 25 किलो वाले प्रोग्राम के लिए फोन किया. तो महिला ने पूछा कि : ' क्या आपका इरादा पक्का है? यह प्रोग्राम थोड़ा कठिन है.' \n\n मोटू बोला: ' हां.' अगली सुबह 6 बजे मोटू ने दरवाजा खोला तो देखा कि दरवाजे पर जागिंग सूट और शूज पहने एक काली भुजंग बेहद मोटी लड़की खडी है, जो उसे देखते ही बोली: 'भागो, वरना अगर मैंने तुम्हें पकड़ लिया तो 'किस' भी करूंगी और प्यार भी, \n\n बस, फिर क्या था, भाग मिल्खा भाग का नजारा सामने था... \n\n

चैलेंजः पकड़िए हत्यारे को

अगर आप होशियार हैं तो आप इस केस को सुलझाएं अगर नहीं तो सॉरी लिख देने से भी काम चलेगा...
"दिमाग लगाइए \n\n अगर आप होशियार हैं तो आप इस केस को सुलझाएं अगर नहीं तो सॉरी लिख देने से भी काम चलेगा एक आदमी का कत्ल 27 जनवरी, 2016 को सुबह 11 बजे हुआ उसकी बीवी ने पुलिस को बुलाया. पुलिस सब से सवाल पूछने लगी कि घटना के समय तुम सब कहां थे ? एक एक कर सबने उत्तर दिया बीवी: सर मैं उस समय अखबार पढ़ रही थी रसोइया: मैं खाना बना रहा था माली: मैं फूलों में पानी दे रहा था नौकर: मैं बैंक गया हुआ था बच्चे: हम स्कूल गए थे पड़ोसी: हम दूसरे शहर गए हुए थे. पुलिस ने फौरन कातिल को पकड़ लिया. \n\n उत्तर इसी पोस्ट में है. \n\n कत्ल बीवी ने किया था, क्योंकि 27जनवरी को तो अखबार ही नहीं छपता. \n\n"

अनोखी फ़ीस माफ़ी

फ़ीस माफ़ी का अनोखा अप्लिकेशन ....
"फ़ीस माफ़ी का अनोखा अप्लिकेशन \n\n सेवा में, श्रीमान प्रधानाचार्य जी, राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, घाटवा. \n\n विषय-: फ़ीस माफ़ी हेतु \n\n महोदय, \n\n उपरोक्त विषय में आप से निवेदन है कि मैं कल घर से फ़ीस देने के लिए 500 रुपए लेकर निकला था, मगर रास्ते में मेरी गर्लफ्रैंड मिल गई, तो उसे पिज्ज़ा हॉट ले जाना पड़ा, जिस के चलते फीस के सारे पैसे वहीं पर खर्च हो गए. \n\n वहां मैंनें देखा कि आप भी पूजा मैडम को अपने हाथ से पिज्जा खिला रहे थे. जिसका वीडियो प्रमाण हेतु साथ में संलग्न कर रहा हूं. \n\n अत: आपसे अनुरोध है कि परिस्थिति की गंभीरता को ध्यान में रखते हुए मेरी फीस को माफ किया जाये, आगे आप खुद समझदार हैं. \n\n फीस माफ या पर्दाफाश...फैसला आपके हाथ \n\n आपका आज्ञाकारी छात्र पप्पू कक्षा 7 – जी \n\n"

कहां से आ रही

एक पति आधी रात को दारू पी कर आया और दरवाजा खटखटाया. बीवी: 'दरवाजा नहीं खोलूंगी..
एक पति आधी रात को दारू पी कर आया और दरवाजा खटखटाया. \n\n बीवी: 'दरवाजा नहीं खोलूंगी, इतनी रात को जहां से आ रहे हो, वहीं चले जाओ" \n\n पति: 'दरवाजा खोलो, नहीं तो नाले में कूदकर अपनी जान दे दूंगा " \n\n बीवी: 'मुझे कोई परवाह नहीं...तुम्हें जो करना है वो करो ' \n\n इसके बाद पति गेट के पास के अंधेरे हिस्से में जाकर खड़ा हो गया और 2 मिनट इंतजार किया. जब दरवाजा फिर नहीं खुला, तो उसने एक बड़ा सा पत्थर उठाया और पास के नाले के पानी में फेंक दिया... \n\n छपाक... \n\n बीवी ने छपाक सुनते ही तुरंत दरवाजा खोला और नाले की ओर तेजी से दौड़ पड़ी, \n\n इधर अंधेरे में खड़े पियक्कड़ पति ने दरवाजे की ओर दौड़ लगाई और बीवी जब तक समझती उसने घर के अंदर जाकर दरवाजा बंद कर लिया. \n\n बीवी लौटी. अब मनुहार करने की बारी उसकी थी. उसने कहा: 'दरवाजा खोलो, नहीं तो मैं चिल्ला-चिल्ला कर सारे मोहल्ले को जगा दूंगी.' \n\n पतिः 'खूब चीखो, चिल्लाओ, जब तक सारे पड़ोसी जमा न हो जाएं. फिर मैं उन सबके सामने तुमसे पुछूंगा कि आधी रात को तुम नाइट गाऊन पहनकर कहां से आ रही हो?' \n\n

सर्विस

न्युयॉर्क से मुंबई आ रही अमेरिकन एयरलाइन्स की फ़्लाइट मैं एक महिला अपने बच्चे को टॉयलेट मैं बैठा कर उससे बोली: 'बेटा मैं पांच मिनट में आयी ,कहीं भागना नहीं....
न्युयॉर्क से मुंबई आ रही अमेरिकन एयरलाइन्स की फ़्लाइट मैं एक महिला अपने बच्चे को टॉयलेट मैं बैठा कर उससे बोली: 'बेटा मैं पांच मिनट में आयी, कहीं भागना नहीं.' \n\n पर बच्चे ने दो मिनट में ही काम खत्म किया और बाहर निकल कर मां की तरफ जाने की बजाय खूबसूरत सी एयर होस्टेस आंटी के पीछे निकल लिया. \n\n इस बीच कनाडा से मुंबई आ रहे सरदार जी टॉयलेट में घुस गए और दरवाज़ा बंद कर दिया.. \n\n तीन-चार मिनट के बाद ही बच्चे की मां ने दरवाज़ा खटखटाया और कहा: 'हो गया हो तो धुलवाके पैंट पहना दूं.', \n\n दरवाज़े के पीछे से चौंक कर सरदार जी उछल पड़े: "ओ तेरी के....तो इसको कहते हैं अमेरिकन सर्विस. हम हिंदुस्तानी तो हर दम पीछे ही रहेंगे इनसे. \n\n

क्या खूब कही

एक गांव में Rexona नाम की सुदंर लड़की रहती थी...
एक गांव में Rexona नाम की सुदंर लड़की रहती थी. \n\n उसको Cinthol नाम के लड़के से प्यार हो गया. \n\n Margo एवं Hamam, Cinthol के माता-पिता थे. तो \n\n Nirma एवं Wheel की संतान थी Rexona \n\n Cinthol मेरा 'Life boy' होगा इस बात को सोच कर Rexona बहुत खुश थी \n\n Rexona की 501 नाम की बुआ ने भागदौड़ करके दोनों का विवाह तय किया. \n\n Rexona एवं Cinthol दोनों ही बहुत खुश थे \n\n और \n\n medimix गांव के santoor टाकीज के सामने स्थित 'Fair and lovely' उद्यान कार्यालय में दोनों का विवाह धूमधाम से संपन्न हुआ Lux, Dove, Dettol, Sevelon, Tide, Fa, Jo इन सभी को विवाह में बुलाया गया था \n\n नव विवाहित अपने स्वप्न नगरी के ''PEARS' बंगले में सुख पूर्वक रह रहे थे \n\n 25 साल बाद उन्हें एक बेटी पैदा होती है, जो इन सबके 12 बजाती है, उसका नाम था..... \n\n पतंजलि

किसका पेशा

एक नवविवाहित डाक्टर अपनी बीवी के साथ सुबह की सैर पर निकला...
"एक नवविवाहित डाक्टर अपनी बीवी के साथ सुबह की सैर पर निकला. सामने से आती हुई एक सुंदर युवती ने मुस्कुराकर डॉक्टर को नमस्ते किया. यह देखकर डॉक्टर की बीवी जल-भुन गई. उसने अपने पति से पूछ ही लिया, 'इसे आप कैसे जानते हैं?' 'पेशे के सिलसिले में...' डाक्टर ने लापरवाही से जवाब दिया. जवाब में बीवी ने पूछ लिया, ' किसका पेशा, आपका या उसका?'"

बीवियों का दिमाग

बीवी गांव वाली हो या पढ़ी-लिखी ,सभी औरतों का दिमाग ऊपर वाला एक ही फैक्टरी में बनाता है...
"बीवी गांव वाली हो या पढ़ी-लिखी, सभी औरतों का दिमाग ऊपर वाला एक ही फैक्टरी में बनाता है !!!! आप उस दिमाग को जानना चाहते हैं ना.. \n\n ➡ चावल में पानी ज्यादा हुआ तो… - ""चावल नया था,"" \n\n ➡ रोटियां कड़क हो गई तो… - ""कमबख्त ने अच्छा आटा पीस कर ही नहीं दिया,"" \n\n ➡ चाय ज्यादा मीठी हो गयी… - ""शक्कर ही मोटी थी"" \n\n ➡ चाय पतली हो गयी तो … -""दूध में पानी ज्यादा था,"" \n\n ➡ शादी या किसी फंक्शन में जाते समय… - ""कौन सी साड़ी पहनूं ? मेरे पास अच्छी साड़ी ही नहीं है !"" \n\n ➡ घर पर जल्दी आ गए तो… -""आज जल्दी कैसे आ गए ?"" \n\n ➡ लेट हो गए तो.… - ""इतने वक़्त तक कहाँ थे ?"" \n\n ➡ कोई चीज सस्ती मिल जाए तो… - ""तुमको सभी फंसा देते हैं"" … \n\n ➡ महंगी लाई तो… -""तुमको किसने कहा था लाने को ?"" \n\n ➡ खाने की तारीफ़ कर दो तो… - ""मैं तो रोज ऐसा ही खाना बनाती हूं ."" \n\n ➡ खाने को गलत कहा तो… - ""तुमको तो मेरी कदर ही नहीं"".… \n\n नुस्खा यह है कि… 1) खुद का ध्यान रखें, 2) शांत रहने का प्रयास करें. 3) डरना नहीं, 4) ईश्वर आपके साथ है… "

एक अदा यह भी

सभी शादी-शुदा मर्दों को समर्पित..
सभी शादी-शुदा मर्दों को समर्पित जब पति से कप टूटता है तब बीबी-- हां सब कुछ तोड़ दो ..दिखता नहीं क्या जब बीबी से कप टूटे ये कप यहां किसने रखा ? अभी पिछले महीने ही तो खरीदा था! \n\n कोई काम करो और गलती हो गई तो... एक काम कभी ढंग से करते नहीं, पता होता तो खुद कर लेती. और काम न किया या मना कर दिया तो... तुम्हारे भरोसे रहती तो कोई काम नहीं होने वाला \n\n

शादीशुदा

एक आदमी ौर उसके दोस्त की एक्सीडेंट में मौत हो गई. वह सीधे परलोक सिधार गए...
एक आदमी ौर उसके दोस्त की एक्सीडेंट में मौत हो गई. वह सीधे परलोक सिधार गए. वहां दो दरवाजे थे. एक पर लिखा था स्वर्ग. दूसरे पर नर्कः दोनों दोस्त सीधे स्वर्ग के दरवाजे पर पहुंचे. \n\n वहां दरवाजा खटखटाया तो अंदर से आवाज आयी, क्या तुम शादीशुदा हो? \n\n आदमी: जी हां. अंदर से फिर आवाज़ आयी,' तुम अंदर आ सकते हो, तुमने शादी करके पहले ही अपने कर्मों की काफी सजा पा ली है. उसी के साथ एक्सिडेंट में मरे उसके दूसरे साथी ने दरवाजा खटखटाया तो अंदर से फिर वही आवाज आयी ,'क्या तुम शादीशुदा हो?' दूसरा आदमी: खुशी के मारे बोल पड़ा, जी हां, मेरी तो दो बार शादी हो चुकी है. फिर अंदर से आवाज़ आयी,' भाग जाओ, यहां सताए हुए लोगों के लिए जगह है, पर बेवकूफों के लिए नहीं.'

लड़ाई की शैली

विभिन्न शौहरों की बीवियां उनसे कैसे लड़ती है़
विभिन्न शौहरों की बीवियां उनसे कैसे लड़ती है़ :- \n\n पायलट की बीवी : ज्यादा मत उड़ो टीचर की बीवी : मुझे मत सिखाओ पेंटर की बीवी : थोबड़ा रंग दूंगी धोबी की बीवी : धो दूंगी एक्टर की बीवी : ज्यादा नाटक मत करो डेंटिस्ट की बीवी : बत्तीसी तोड़ दूंगी खजांची की बीवी : हिसाब से रहो इंजीनियर की बीवी : सारे पुर्जे ढ़ीले कर दूंगी आर्किटेक्ट की बीवी : ढ़ंग से रहो वरना थोबड़े का डिजाईन बदल दूंगी पुजारी की बीवी : घंटी बजा दूंगी म्युजीशियन की बीवी : ढोल बजा दूंगी ड्राईवर की बीवी : ब्रेक लगा दूंगी बिल्डर की बीवी : ईंट से ईंट बजा दूंगी डॉक्टर की बीवी : सही इलाज कर दूंगी वकील की बीवी : अपनी वकालत कोर्ट तक ही रखो....

हॉट बीवी

एक नेता की बीवी बहुत ही सुंदर और हॉट थी. एक दिन नेता के दिल में ना जाने क्या आया और
"एक नेता की बीवी बहुत ही सुंदर और हॉट थी. एक दिन नेता के दिल में ना जाने क्या आया और उसने अपनी बीवी को बुलाया और पूछा. \n\n - नेता: सच-सच बताओ तुमने हमारे साथ कितनी बार बेवफाई की है? पत्नी कुछ देर सोच कर बोली, 'जी सिर्फ 3 बार. \n\n - नेता मन ही मन खुश हुआ कि चलो इतनी हॉट होने के बाद भी इसने केवल 3 बार ही बेवफाई की. \n\n - फिर भी उसने अपनी पत्नी से पूछा, ' कब-कब?' \n\n - पत्नी: एक बार जब आपके दिल का ऑपरेशन हुआ था तो मैं शहर के सबसे बड़े डॉक्टर को मनाने गयी थी. नेता: हम्म? \n\n - पत्नी: अगली बार जब आप जेल में बंद थे और रिहाई का कोई रास्ता नहीं था तो जज के पास गयी थी. नेता: हम्म्म्म्म और तीसरी बार? \n\n - पत्नी शर्माते हुए बोली, ""जब आपको मुखिया बनना था और आपके पास 76 वोट कम पड़ रहे थे. \n\n नेता जी बेचारे आज तक बेहोश हैं. \n\n "

प्यार के नियम

न्यूटन के चचेरे भाई यूटर्न द्वारा दिए प्यार के ये नियम हमेशा याद रखेंः यूनिवर्सल नियमः
"न्यूटन के चचेरे भाई यूटर्न द्वारा दिए प्यार के ये नियम हमेशा याद रखेंः यूनिवर्सल नियमः \n\n प्यार को न तो पैदा किया जा सकता है और न ही नष्ट किया जा सकता है, इसे केवल कुछ धन की क्षति के साथ एक गर्ल फ्रेंड से दूसरी गर्लफ्रेंड में बदला जा सकता है \n\n ........... . * पहला नियम : लड़का, लड़की को हमेशा प्यार करता रहेगा और लड़की भी लडके को प्यार करना जारी रखेगी तब तक, जब तक कि कोई बाहरी बल (लड़की के बाप एवं भाई द्वारा लडके की ठुकाई कर) न लगाया जाये. \n\n ........... * दूसरा नियम: एक-दूसरे के प्रेम में डूबे प्रेमी जोड़े में लड़की द्वारा लड़के से किये जाने वाले प्रेम की क्वांटिटी में बदलाव, लडके के बैंक बैलेंस के हिसाब से होता है. \n\n ............ . * तीसरा नियम - लड़की द्वारा प्यार का अनुरोध नकारे जाने के बाद लगाया गया बल, उसके सैंडल द्वारा प्रयोग किये जाने वाले बल के समान एवं विपरीत दिशा में होता है. \n\n"

कितनी बीवियां

इस नए जोड़े का प्यार महल्ले वालों के लिए बड़ा मनोरंजक था. जब देखो तब ये एक-दूसरे को प्यार जताते दिख जाते...
इस नए जोड़े का प्यार महल्ले वालों के लिए बड़ा मनोरंजक था. जब देखो तब ये एक-दूसरे को प्यार जताते दिख जाते. \n\n एक दिन हसबैंड और वाइफ दोनों मार्केट गए तो एक दूसरी लड़की ने पति को देख मुस्करा कर हैलो किया. \n\n वाइफ ने पूछा : कौन थी वह, जो तुम्हें देख कर इतना इतरा रही थी. \n\n हसबैंड क जवाब आया : अब तुम प्लीज् दिमाग खराब मत करो....अभी उसको भी बताना है की तुम कौन हो?. \n\n

स्वर्ग और दिल्ली

साधू: बच्चा ,तुझे स्वर्ग मिलेगा ,लाओ कुछ दक्षिणा दे जाओ. लड़का: ठीक है दक्षिणा में आपको मैंने दिल्ली दी...
साधू: बच्चा, तुझे स्वर्ग मिलेगा, लाओ कुछ दक्षिणा दे जाओ. \n\n लड़का: ठीक है दक्षिणा में आपको मैंने दिल्ली दी. आज से दिल्ली आपकी हुई. \n\n साधू :- दिल्ली क्या तुम्हारी है ? जो मुझे दे रहे हो. \n\n लड़का : तो स्वर्ग क्या आपने खरीद रखा है साधु बाबा, जो तू उधर के प्लाट यहां बैठे- बैठे बांट रहे हो. \n\n

अप्सरा और बन्दर

बीवी: अजी ,सुनते हैं कि आदमी अच्छे कर्म कर मरता है तो उसे स्वर्ग में उसे अप्सराएं मिलती हैं. कुछ बताएंगे कि औरतों को...
बीवी: अजी, सुनते हैं कि आदमी अच्छे कर्म कर मरता है तो उसे स्वर्ग में उसे अप्सराएं मिलती हैं. कुछ बताएंगे कि औरतों को स्वर्ग में क्या मिलता है? \n\n पति: खुशी के मारे, इतराते हुए, तुम लोगों को बंदर मिलता है, बंदर! \n\n बीवी: (ठंडी सांस लेते हुए) अजी, ये तो बहुत गलत बात है. तुम लोगों को यहां भी अप्सरा...और वहां भी अप्सरा. हमें यहां भी बंदर और वहां भी बंदर. \n\n
Laoding...